आपकी उम्र जो भी हो, आपका शरीर ख़ुद को कितने साल का समझता है?


जब कोई 25 या 30 साल का व्यक्ति मजाक में कहता है कि "बुढ़ापा कितनी जल्दी आ गया," तो उसे नहीं पता होता कि यह मजाक नहीं है। असल में, ऐसा हो रहा है। हम अपनी उम्र को जन्म से गिनते हैं, जैसे 20 साल या 30 साल हो गए। यह कागज पर हमारी उम्र होती है। लेकिन हकीकत में, कागज पर लिखी उम्र केवल कागजी हो सकती है। हो सकता है आपका शरीर खुद को उससे ज्यादा बूढ़ा महसूस करता हो। ऐसा उन लोगों के साथ होता है जो ज्यादा तनाव लेते हैं।


READ MORE: आटे में ये चीज मिलाएं, आटा ही बन जायेगा दवा


घबराएं नहीं... उम्र को करें रिवर्स 

ऐसे सुनकर स्ट्रेस लेने वाले लोग और भी ज्यादा तनाव में आ सकते हैं, पर घबराएं नहीं। पहले डॉक्टर से सलाह ले कि असल में मामला क्या है? अच्छी बात यह है कि उम्र को रिवर्स भी किया जा सकता है। जानिए कैसे-


हमारी दो प्रकार की उम्र होती हैं - क्रोनोलॉजिकल और बायोलॉजिकल

क्रोनोलॉजिकल उम्र वह होती है जो यह बताती है कि हमारे शरीर की उम्र कितनी है, जबकि बायोलॉजिकल उम्र बताती है कि हमारा शरीर खुद को किस उम्र का महसूस करता है। तनाव का हमारी बायोलॉजिकल उम्र पर बहुत बड़ा असर पड़ता है। जितना हमारा तनाव बढ़ता है, उतनी ही हमारी बायोलॉजिकल उम्र भी तेजी से बढ़ती है और शरीर कम स्वस्थ और बूढ़ा महसूस करने लगता है।


READ MORE: नाभि में तेल लगाने पर मिलते हैं आश्चर्यजनक फायदे


तनाव ही है सारी समस्या का जड़

तनाव से बीपी, शुगर, मोटापा और अन्य समस्याएं भी बढ़ जाती हैं और शरीर की उम्र कम होती है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि तनाव से शरीर में कुछ ऐसे हार्मोन और केमिकल्स निकलते हैं जो हमारी कोशिकाओं पर असर डालते हैं। इससे हमारी कोशिकाओं का विकास और मरम्मत प्रभावित होती है और बायोलॉजिकल उम्र बढ़ जाती है। तनाव से हमारे डीएनए और क्रोमोजोम्स को बचाने वाली प्रणाली पर भी असर पड़ता है। पर अच्छी बात यह है कि हम इसे रिवर्स कर सकते हैं। अगर हम नियमित रूप से एक्सरसाइज करें, स्वस्थ खाना खाएं और तनाव कम करने वाले काम करें, जैसे हमारी हॉबीज (गाने गाना, पेंटिंग आदि), तो हमारी बायोलॉजिकल उम्र कम हो जाती है और शरीर पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है।


हेल्दी लाइफस्टाइल फॉलो करें

समझ गए कि उम्र क्यों बढ़ती है और इसे कैसे रोक सकते हैं? इसलिए जरूरी है कि तनाव को कंट्रोल करें और हेल्दी लाइफस्टाइल फॉलो करें। अगर आप तनाव नहीं संभाल पा रहे हैं, तो यह नॉर्मल है। इंसान अपने हालात को नहीं बदल सकता, पर प्रोफेशनल मदद लेकर तनाव को मैनेज जरूर कर सकता है। अगर जरूरत हो तो एक्सपर्ट से मिलें।


READ MORE : इन 4 चीजों का करे सही तरीके से इस्तेमाल, क्योंकि खाते ही बन जाती हैं 'जहर', कर सकती हैं बीमार!


डायट पर ध्यान दें

जिम जाने से पहले अच्छा खाना खाएं जिसमें प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और फैट हो। जिम जाने से 1-2 घंटे पहले खाना खाएं और जिम से ठीक पहले अच्छी मात्रा में पानी पिएं। हमारे शरीर का 50-70त्न हिस्सा पानी होता है।


अब बढ़ते हैं जिम के बारे में। अगर आपने हाल ही में जिम जाना शुरू किया है, तो इन बातों का ध्यान रखें।

1. जिम जाने से पहले अच्छा खाना खाएं जिसमें प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और फैट हो।

2. जिम जाने से 1-2 घंटे पहले खाना खाएं और जिम से ठीक पहले पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं।

3. एक्सरसाइज लाइट वेट से शुरू करें ताकि मांसपेशियां अच्छे से वार्म अप हो जाएं और कसरत के लिए तैयार हो जाएं।

4. स्ट्रेचिंग करें ताकि बॉडी कूल डाउन हो सके।


कैल्शियम के लिए क्या खाएं?

अगर आपको दूध और डेरी प्रोडक्ट्स से एलर्जी है, तो कैल्शियम की कमी पूरी करने के लिए ब्रोकली, बंदगोभी, हरी पत्तेदार सब्जियां, केला, बेरीज, बादाम और अलसी के बीज खा सकते हैं।


READ MORE : बीमारियों से बचने के लिए शरीर को कैसे करें डिटॉक्स

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.